Warning: include(/home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/plugins/breadcrumbs.php): failed to open stream: No such file or directory in /home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/layouts/blog.php on line 9

Warning: include(/home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/plugins/breadcrumbs.php): failed to open stream: No such file or directory in /home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/layouts/blog.php on line 9

Warning: include(): Failed opening '/home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/plugins/breadcrumbs.php' for inclusion (include_path='.:/opt/cpanel/ea-php72/root/usr/share/pear') in /home/weboobiz/public_html/biz-content/themes/hospital-1/neurosurgeon/layouts/blog.php on line 9

Blog

CERVICAL PLATING | सर्विकल बॉडी स्थिरीकरण (फिक्सेशन)

18 May 2018 / By Admin

परिचय
सर्विकल बॉडी स्थिरीकरण (फिक्सेशन) एक तकनीक है। जिसमें हम दो या अधिक रीढ़ के जोड़ों को प्लेटों और पेचों के माध्यम से एक साथ जोड़ते हैं ताकि रीढ़ को स्थिर किया जा सके। यह एक खुली सर्जरी है जिसे मुख्य रूप से अपकर्षित होती हुई (डीजेनरेटिव) सर्विकल स्पाइन या असाध्यता या मायलोपैथी या सर्विकल स्पाइन फ्रेक्चर के रोगियों में प्रयोग किया जाता है।

सामान्य सर्विकल स्पाइन एनाटोमी
सर्विकल कॉलम 7 सर्विकल रीढ़ की हड्डियों से बना होता है। यह हमारी गर्दन का निर्माण करता है और इसी से गर्दन की सभी गतिविधियां की जाती हैं। प्रतितिदन के सामान्य कार्यों में गर्दन की अधिकतर गतिविधियों का प्रयोग किया जाता है, इसलिए इनका अपकर्षण अर्थात आयु संबंधित घिसावट या टूट फूट होना सामान्य बात है।

 मुझे सर्जरी से कैसे लाभ होगा?
• यह गर्दन के दर्द और बाजु के दर्द को दूर करने में सहायक होगा और इसलिए आपको दर्द से मुक्त करेगा। इससे स्पाइन स्थिर हो जाएगी और इसलिए यह क्रियात्मक रूप से स्थिर होगी।
• यह स्पाइन की गोलाई को उचित प्रकार से बनाए रखता है।
• तुरंत प्रतिदिन के कार्यों और गतिविधियों पर लैटा जा सकता है। रोगी सर्जरी के अगले ही उठ कर चलने
लग जाता है।

सर्जरी कैसे की जाती है?
यह एक खुली सर्जरी है जिसे प्राय एक अग्रवर्ति उपागम (अंटेरियर एपरोच) के माध्यम से किया जाता है। प्राय इसे बेहतर रीढ़ की स्थिरता के लिए किया जाता है। संयोजन प्राय हड्डी को जोड़कर या बीएमपी या दो मेरूदंण्डीय अंगों के बीच रोपण (प्लांटेशन) करके किया जाता है ताकि प्रारंभ में ही संयोजन किया जा सके और इसलिए यह एक सफल सर्जरी होती है।
चीरे का आकार इस बात पर निर्भर है कि कितनी हड्डियों को स्थिर करना है। प्राय बाहरी गर्दन पर दो इंच का चीरा लगाया जाता है; गर्दन के दांयी या बांयी तरफ क्षैतिज चीरा लगाया जाता है। मांसपेशियों को काटा जाता है और पीछे मोड़कर स्पाइन हड्डी तक पहुंचा जाता है। बाहरी उपागम के माध्यम से न्यूनतम मांसपेशीय विच्छेदन किया जाता है। और इस प्रकार तुरंत ठीक हो जाता है। अस्थिर खण्डों को प्लेटों से स्थिर किया जाता है और प्रत्येक हड्डी के अंदर से पेंच लगाए जाते हैं। इस प्रकार स्पाइन को स्थिर और सख्त बनाया जाता है।

 
प्राय पूछे जाने वाले प्रश्न
क्या मैं सर्जरी के लिए एक उचित उम्मीदवार हूं?
यदि आपमें निम्न लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो आप सर्जरी के लिए उचित उम्मीदावार हैं:
  • गर्दन में तेज दर्द और इसके साथ साथ हाथों में कमजोरी जिसके कारण आपके जीवन की गुणवत्ता बाधित हो जाती है।
  • चलने में असंतुलन
  • लिखाई में हाल ही में आए परिवर्तन
  • शर्ट के बटन खोलने और बंद करने में कठिनाई

क्या तुरंत सर्जरी करवाना आवश्यक है?
तुरंत सर्जरी केवल तभी आवश्यक है जब दर्द बहुत तेज हो रहा हो और आपके ऊपर अंग में कमजोरी आ जाए और वे सुन्न हो जाएं। यदि आपके सामने संतुलन और जोड़ों की समस्याएं आ रही हों।

क्या सर्जरी में कोई अंतर्विरोध है?
• तेज आस्टिपेरोसिस
• बहुत सी रुग्णता की स्थितियां।
• कोई भी खून के जमने की बीमारी।

इस प्रक्रिया में क्या जोखिम और जटिलताएं हैं?
सामान्यतः यह एक सुरक्षित प्रक्रिया है परंतु अनेस्थेसिया और सर्जरी के कारण कुछ जटिलताएं आ सकती हैं जो निम्न हैं:-
  • अनेस्थेसिया के साइड प्रभावों के कारण दर्द, छाती की
  • समस्याएं, मिचली और उलटी आना।
  • संक्रमण हो सकता है।
  • चीरे के स्थान से खून निकल सकता है।
  • घाव का खुल जाना
  • कंठ नली के स्नायु जड़ों में बार बार डैमेज होना।
  • आवाज का खराब हो जाना।
  • स्क्रु का गलत लगना या प्रक्रिया के दौरान हड्डी टूट सकती है।
  • भोजन की नली के सिकुड़न के कारण निगलने में कठिनाई आना।
  • कमजोरी सुन्नता होने की संभावना दुर्लभ है।
लेकिन, ऊपर वर्णित जटिलताएं फिक्सेशन स्पाइन सर्जरी के दौरान होने की संभावने केवल 1-2 प्रतिशत मामलों में ही हैं।

कया सर्जरी का कोई विकल्प है?
हां, यदि दर्द कम है तो रोगी दवाएं लेना जारी रख सकता है। और दर्द के साथ जीवन गुजार सकता है।
यदि रोगी में कमजोरी आ गई है और सन्नता आ गई है और तेज दर्द होता है तो केवल सर्जरी ही एकमात्र उपचार बचता है।

सर्जरी की लागत कितनी होगी?
प्राय सर्जरी की लागत 2 लाख से 3 लाख होगी जो फिक्सेशन के स्तर और प्रयोग किए जाने वाले रोपणों पर निर्भर है। और अस्पताल में इलाज के दौरान लेने वाले कमरे पर निर्भर है।

क्या यह प्रक्रिया बीमा पॉलिसी के अंतर्गत आती है?
हां, सर्विकल फिक्सेशन से गुजरने के लिए आप बीमा सुरक्षा ले सकते हैं। आप इसकी तसल्ली हमारे दाखिला डेस्क/टीपीए डेस्क से एक बार कर सकते हैं। आप अपना बीमा कार्ड और पॉलिसी साथ ला सकते हैं।

इस सर्जरी की सफलता दर कितनी है?
स्पाइनल फिक्सेशन की सफलता 90 से 90 प्रतिशत तक होती है, जो प्रक्रिया, फिक्सेशन के स्तर और रोगी की सामान्य स्वास्थ्य स्थिति पर निर्भर है।

सर्जरी के लिए कितना समय चाहिए?
सर्जरी करने के लिए 1 से 3 घण्टे या इससे अधिक की आवश्यकता होती है।

क्या मुझे सर्जरी से पहले कोई जांच कराने की आवश्यकता है?
हां, कुछ जांच होती हैं जिन्हें पीएसी (प्री अनेस्थेटिक चैक अप) कहा जाता है जिन्हें सर्जरी से पहले कराने की आवश्यकता है ताकि अनेस्थेसिया टीम के द्वारा सर्जरी के लिए उपयुक्त घोषित किया जा सके।

क्या सर्जरी स्थानीय या सामान्य अनेस्थेसिया के अंतर्गत होगी?
यह प्रक्रिया सामान्यतः सामान्य अनेस्थेसिया के अंतर्गत होगी। मुझे कितने समय तक अस्पताल में रहना होगा? आपको सर्जरी से एक दिन पहले अस्पताल में भर्ती होना होगा ताकि हमारी टीम सर्जरी से पहले आपकी आवश्यक जांच कर सके। और आपको सर्जरी के 2 या 3 दिन बाद छुट्टी दी जाएगी जो आपकी सामान्य स्वास्थ्य स्थिति पर निर्भर है।

क्या इससे मेरा दर्द तुरंत चला जाएगा?
हां, वह दर्द जो आपकी बाजु में और आगे की बाजू में आ रहा था वह कम्प्रेशन को हटाते ही समाप्त हो जाता है परंतु आपकी गर्दन का दर्द और अकड़न को पूरी तरह से समाप्त होने में कुछ सप्ताह लग सकते हैं।

सर्जरी के बाद मुझे कब आना होगा?
  • आपको सर्जरी के 2 सप्ताह बाद टांके निकलवाने के लिए आना होता है। यद्यपि निम्न लक्षण दिखाई देने पर भी आपको सर्जन से मिलने की आवश्यकता है
  • बुखार कोई भी सोजन के संकेत दिखाई देने पर जैसे लाल होना, सूजन आना आदि।
  • चीरे के स्थान से रक्त बहने पर
  • तेज दर्द होने पर
  • कोई भी सुन्नता या सिरहन होने पर

सर्जरी के बाद मुझे किन चीजों से परहेज करना होगा?
  • सर्जरी के बाद छह महीने तक गर्दन को मोड़ना या झटकना।
  • घाव की उचित देखभाल;घाव को सूखा और साफ रखें।
  • अच्छी तरह ठीक होने के लिए कॉलर पहनने की सलाह दी जाती है।
  • सर्जरी के बाद 12 सप्ताह तक भारी बोझ नहीं उठाने की सलाह दी जाती है।

वापस घर जाने पर क्या मैं स्नान कर सकता हूँ?
नहीं, टांकों को निकालने तक नहीं।

क्या मूझे ऑपरेशन के बाद सहायता या उपचार की आवश्यकता है?
  • हां आपको प्रशिक्षित शारीरिक शिक्षक के अंतर्गत शारीरिक उपचार करवाने की आवश्यकता है। थेरेपिस्ट आपसे निम्न कार्य करवाएगाः
  • दैनिक जीवन की गतिविधियां जैसे लेटना, बैठना, खड़ा होना।
  • सामान्य अनुकूलन अभ्यास
  • गहरी सांस लेने का अभ्यास
  • हल्का शरीर विस्तार करने का अभ्यास
  • उचित स्थिरता की अवस्थिति को समझना

क्या मैं सर्जरी के बाद कार चला सकता हूँ?
रोगियों को तब तक कार नहीं चलानी चाहिए जब तक कि आपको डॉक्र द्वारा अनुमति नहीं दी जाती। सामान्यतः आप 4 पहियों का वाहन सर्जरी के एक माह के बाद चला सकते हैं। दुपहिया वाहनों को चलाने से पूरी तरह से बचना है।

मैं सर्जरी कब करवा सकता हूँ?
जब आप सर्जरी के लिए मानसिक रूप से तैयार हों, तो आप हमारी टीम के पास निम्न नम्बरों पर कॉल कर सकते हैं, ताकि आपके लिए ऑपरेशन थियेटर और कमरा बुक किया जा सके।
आपको भर्ती करने और सर्जरी के लिए अस्थायी तिथियां प्रदान कर दी जाएंगी।

GO BACK